Menu
School Campus

School Campus

Established in 2002, DP...

Transport & Safety

Transport & Safety

  Transport is an in...

Study Labs

Study Labs

“I hear, I forget; I se...

Health & Medical Care

Health & Medical Care

  The Infirmary at DPS...

Library and Smart Class

Library and Smart Class

The school is a very sm...

Prev Next

Hindi Divas Celebration

Hindi Divas Celebration

14th September is celebrated as National Hindi Day. So this day was celebrated in DPS-North with active participation by the Students of Primary, Middle and High School students, performing various programmes starting with Prayer, followed by Hindi skit, Muhavaron ki parade, Fashion show, self-composed Hindi poems, amazing facts about Hindi and Dance. Hindi Divas is mainly celebrated to express the importance of this language as it was declared our “Raaj Bhasha” by Indian constituency in on 14th September 1949. Hindi is spoken all over India; also in other countries. The programme was concluded by vote of thanks.

On the occasion of Hindi Divas, a programme “Hindi hain Hum” was organized by Madhuban Publications in New Delhi, in which Hindi teacher and Head of Department, Mrs. Nirmal Dwivedi was honored for her contribution for Hindi teaching in the field of Education.

 

हिंदी दिवस आयोजन

१४ सितंबर राष्ट्रीय हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। डी.पी.एस-उत्तर में यह दिन प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च कक्षाओं के छात्रों द्वारा पूरे उत्साह के साथ रगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत करके मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रार्थना और स्वागत भाषण से किया गया और लघु नाटक, फैशन शो, मुहावरों की परेड, कविता पाठ, हिंदी भाषा से जुड़े रोचक तथ्य तथा नृत्य जैसे कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। १४ सितंबर १९४९ के दिन हिंदी को भारतीय संविधान में “राज भाषा” घोषित किया गया। हिंदी संपूर्ण भारत में बोली और समझी जाने वाली भाषा है। भारत के अलावा अन्य कई देशों में हिंदी भाषा बोली जाती है। कार्यक्रम का समापन धन्यवाद प्रस्ताव से किया गया।

दिल्ली में मधुबन पब्लिकेशन की ओर से राष्ट्रीय हिंदी दिवस के अवसर पर आयोजित “हिंदी हैं हम” समारोह में हिंदी विभागाध्यक्षा एवं सिक्षिका श्रीमती निर्मल द्विवेदी को शिक्षा के क्षेत्र में हिंदी शिक्षण हेतु अपने सर्वोत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

back to top